राजीव दीक्षित के घरेलू नुस्खे और देसी आयुर्वेदिक उपचार इन हिंदी

राजीव दीक्षित के नुस्खे इन हिंदी: जब बात देसी इलाज और आयुर्वेदिक नुस्खे की हो तब भाई राजीव दीक्षित जी का नाम जरूर लिया जाता है। इन्होंने हज़ारो साल पुराने ayurvedic treatment के बारे लोगों को जागरूक करने में अहम् योगदान दिया है। राजीव जी ने बताया कैसे बिना दवा और डॉक्टर चिकित्सा के घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक उपचार से घर पर ही रोगों का इलाज करे। शुगर, ब्लड प्रेशर, बवासीर, जोड़ों में दर्द, मोटापा और अन्य कई बिमारियों का ट्रीटमेंट और इनसे बचने के उपाय के लिए राजीव जी ने कई रामबाण नुस्खे बताये है। आइये जाने rajiv dixit ke gharelu nuskhe in hindi.

घरेलू इलाज के इलावा राजीव दीक्षित जी ने स्वस्थ और सेहतमंद रहने के लिए कुछ ऐसे देसी तरीके भी बताये है जिनके निरंतर प्रयोग से आप हेल्थी और फिट रह सकते है।

राजीव दीक्षित के नुस्खे, Rajiv dixit ke gharelu nuskhe in hindi

 

भोजन करने का सही तरीका

अगर हम सही तरीके से और सही समय पर भोजन करे तो कई प्रकार के रोगों से बचा जा सकता है। इसका सबसे बड़ा फायदा ये है की शरीर का पाचन तंत्र दरुस्त रहता है और पेट के रोग नहीं होते।

  1. सुबह का नाश्ता पेट भर करे और खाने के बाद फलों का रस पिए।
  2. दोपहर का भोजन सुबह से थोड़ा हल्का ले और भोजन करने के बाद छाछ पिए।
  3. रात को देर से भोजन नहीं करना चाहिए। रात को खाना खाते ही सो जाने से खाना ठीक से पचता नहीं है। रात का खाना सोने से 2 – 3 घंटे पहले ही कर ले और खाना हल्का ही लेना चाहिए।

 

राजीव दीक्षित के नुस्खे और आयुर्वेदिक उपचार

Rajiv Dixit ke Gharelu Nuskhe in Hindi

  1. हाइट बढ़ाने के लिए हर रोज गेंहू के दाने के बराबर चूना दही में मिला कर खाए। दही ना हो तो दाल या पानी के साथ ले।
  2. सर्दी जुखाम और कफ की समस्या के घरेलु इलाज के लिए काली मिर्च, तुलसी और अदरक को शहद में मिला कर दिन में 2 से 3 बार खाये। इस home remedy treatment से नाक का बहना भी रुक जायेगा।
  3. बाल झड़ने से रोकने के लिए नीम का पेस्ट बालों में लगाए फिर कुछ देर बाद धो ले। इस घरेलू नुस्खे से बाल झड़ना बंद हो जायेंगे।
  4. गले की खराश दूर करने के लिए अदरक के पेस्ट  में घी और गुड़ मिला कर खाये।
  5. राजीव दीक्षित बवासीर का इलाज के लिए मूली का रस पिने की सलाह देते है। 1 कप मुल्ली का रस खाना खाने के बाद पिने से piles से राहत मिलती है। इस उपाय को सुबह या दोपहर को करे शाम को ना करे। बवासीर, भगंदर, फिसर सब में इस होम रेमेडी से आराम मिलता है।
  6. बार बार पेशाब आने की समस्या को रोकने के लिए सुबह शाम तिल और गुड़ से बना लड्डू खाये।
  7. हाई ब्लड प्रेशर के देसी इलाज के लिए कुछ दिन निरंतर आधा चम्मच मेथी दाना पाउडर पानी के साथ ले। इसके इलावा लौकी का रस और तुलसी का रस भी high blood pressure कम करने में लाभ करता है।
  8. दांत का दर्द दूर करने के लिए कच्चे प्याज के एक टुकड़े को 3 मिनट के लिए दांतों के बीच दबा कर रखे। इस उपाय से काफी आराम मिलेगा।
  9. किडनी में पथरी की समस्या हो तो 3 कच्ची भिंडी पतली और लम्बी काट कर 2 लीटर पानी में दाल दे और रात भर के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दे। सुबह इसी पानी में भिंडी निचोड़ कर अलग कर ले और 2 घंटे के अंदर सारा पानी पी जाये। इस उपाय को निरंतर करने पर किडनी की पथरी से निजात मिलेगी।
  10. मुंह की बदबू के उपाय के लिए तुलसी के पत्ते चबाये। लौंग और इलायची से भी सांस की बदबू से छुटकारा मिलता है। शरीर से बदबू आती है तो गाजर का जूस रोजाना पीना चाहिए इससे तन की दुर्गंध दूर करने में मदद मिलती है।
  11. Rajiv dixit ke nuskhe in hindi, पान में खाने वाला चूना अनेकों रोगों के उपचार में रामबाण दवा का काम करता है। गेंहू के दाने के समान चूना दही, दाल या जूस के साथ ले। पीलिया, नपुंसकता, दिमाग तेज करने, पीरियड्स की समस्या, कमर दर्द, कंधे का दर्द, घुटनों और जोड़ों का दर्द जैसे अनेकों रोगों से छुटकारा पाने में चूना का सेवन उपयोगी है। पथरी के रोगी इस उपाय को ना करे।
  12. बच्चों को बुखार और सर्दी हो जाये तो 2 – 3 तुलसी के पत्ते और एक छोटा अदरक का टुकड़ा  ले और इनका रस निकाल कर एक चम्मच शहद के साथ दिन में दो से तीन बार दे।
  13. राजीव दीक्षित शुगर का इलाज घरेलू तरीके से करने के लिए करेले को असरदार बताते है। मधुमेह के रोगी को करेले का जूस हर रोज पीना चाहिए। भोजन में भी करेले की सब्जी खाने से भी डायबिटीज कंट्रोल में रखने में मदद मिलती है।
  14. मोटापा और वजन कम करने के लिए जीरा काफी असरदार है। एक चम्मच जीरा रात को एक गिलास पानी में भिगो कर रखे और सुबह इसे उबाल कर चाय की तरह पिए और बचा हुआ जीरा चबा कर खाए। निरंतर इस gharelu upay को करने से पेट की चर्बी कम होने लगती है।
  15. सिर दर्द के उपचार के लिए दालचीनी को पानी में पीस का पेस्ट बना ले और इसे माथे पर लगा कर छोड़ दे। सिर का दर्द दूर करने में ये ट्रीटमेंट दवा से बेहतर काम करता है।

 

अच्छी सेहत पाने के लिए राजीव दीक्षित के उपाय

  • घर में इस्तेमाल होने वाले सफ़ेद नमक की जगह काला नमक, सेंधा नमक या डेले वाला नमक प्रयोग करना चाहिए।
  • भोजन हमेशा जमीन पर चौकड़ी मारकर करे। कुर्सी पर बैठ कर और खड़े हो कर भोजन नहीं करना चाहिए।
  • राजीव दीक्षित के नुस्खे के अनुसार अगर 24 घंटे में 1 बार खाना खाये तो ये सही तरीके से पचता है और पाचन शक्ति भी कम नहीं होती  पर हमारी जीवनशैली के मुताबिक 2 बार भोजन जरूर करे।
  • एल्युमिनियम के बर्तन में खाना पकाने की बजाय मिट्टी के बर्तन प्रयोग करे। एल्युमिनियम के बर्तन इस्तेमाल करने से टी बी, वात रोग, अस्थमा और sugar जैसे रोग होने का खतरा अधिक होता है।
  • जब भी रोटी बनानी हो ताजा आटा गुंथे, कभी भी आटा गूँथ कर फ्रीज़ में न रखे। इसके इलावा 15 दिन से ज्यादा पुराने आटे के पोषक तत्व ख़तम हो जाते है इसलिए महीने भर का आटा एक साथ ना पिसवायें।
  • Rajiv dixit ayurvedic upchar in hindi, आयुर्वेद के अनुसार चीनी एक तरह का सफ़ेद जहर है। चीनी की जगह गुड़ का सेवन करना उत्तम उपाय है। भोजन के बाद एक छोटी गुड़ की डली खाने से शरीर का पाचन अच्छा रहता है।
  • रिफाइंड आयल के सेवन से ब्लड प्रेशर, ह्रदय और कैंसर के रोग में वृद्धि हुई है। खाना पकने के लिए कच्ची घनी का तेल ही प्रयोग में लाये।
  • धूम्रपान, शराब और अन्य नशीले पदार्थों के सेवन से परहेज करे। तंबाकू की जगह चूना खाए। चूना शरीर के लिए अमृत सामान है।

 

पानी पीने के लिए जरुरी टिप्स

  • पानी हमेशा बैठ कर और घूंट घूंट कर के पिए। खड़े हो कर पानी पिने से जोड़ों और घुटनों में दर्द होने का खतरा अधिक होता है।
  • सुबह उठने के बाद सबसे पहले 1 गिलास पानी पिए। ब्रश भी पानी पिने के बाद ही करे।
  • बाहर से घर आने पर सांस तेज होती है और शरीर भी गर्म होता है इसलिए ऐसी स्थिति में पानी नहीं पीना चाहिए। थोड़ी देर रुक कर शरीर का तापमान नार्मल होने पर पानी पिए।
  • खाना खाने के एक घंटे पहले पानी पिए इससे भोजन के दौरान प्यास नहीं लगेगी।
  • पथरी, किडनी के रोगों और motapa से बचने के लिए दिन में 3 से 4 लीटर पानी पिए।
  • भोजन करते समय और भोजन के बाद पानी नहीं पीना चाहिए। खाना खाने के एक घंटे बाद ही पानी पिए।
  • फ्रीज़ का ठंडा पानी पिने की बजाय हल्का गर्म पानी पिने की आदत बनाये इससे मोटापा कम करने में भी मदद मिलेगी और कब्ज़ जैसे रोग से भी बचे रहेंगे।

 

ख़राब पेट का इलाज के नुस्खे इन हिंदी

  • दस्त लगे हो और बार बार टॉयलेट जाना पड़ता है तो इसके इलाज के लिए राजीव दीक्षित जी जीरा का रामबाण दवा बताते है। दस्त ठीक करने के लिए आधा चम्मच चबा कर खाए और ऊपर से गुनगुना पानी पिए loose motion बंद हो जायेंगे।
  • पेट की गैस और पेट का अफारा ठीक करने के लिए काला नमक और अजवाइन बराबर मात्रा में मिला कर गरम पानी के साथ ले।
  • पतले दस्त हो रहे है और हर 5 मिनट में टॉयलेट जा रहे हो तो आधे कप कच्चे दूध में निम्बू निचोड़ कर तुरंत पी जाये।
  • Kabz ayurvedic treatment in hindi, ठीक से पेट साफ़ ना होता हो तो अजवाइन इसकी सबसे अच्छी दवा है। कब्ज़ का घरेलू इलाज करने के लिए अजवाइन को गुड़ के साथ चबा कर खाए और ऊपर से गरम पानी पिए। रात को सोने से पहले इस उपाय को करे सुबह आपका पेट साफ़ हो जायेगा।
  • पेट साफ़ करने के लिए त्रिफला चूर्ण भी काफी उपयोगी बताया गया है। रात को सोने से पूर्व 1 चम्मच त्रिफला चूर्ण पानी के साथ ले।

 

दोस्तों राजीव दीक्षित के नुस्खे आयुर्वेदिक उपचार, Rajiv Dixit ke Gharelu Nuskhe in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास किसी रोग का उपाय के लिए राजीव दीक्षित आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट और देसी इलाज है तो हमें लिखे।

You may also like...

1 Response

  1. गोपाल says:

    बहुत अच्छा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!