प्रेगनेंसी में माँ और बच्चे की देखभाल कैसे करे जाने जरुरी टिप्स

प्रेगनेंसी में माँ और बच्चे की देखभाल कैसे करे टिप्स: प्रेगनेंसी का समय महिला और उसके परिवार के लिए बहुत अहम् होता है। प्रेगनेंसी के 1 मंथ से 9 मंथ के दौरान ऐसी बहुत सी छोटी और बड़ी चीजें होती है जिनकी जानकारी होना जरुरी है जिससे माँ और बच्चे की सही तरीके से देखभाल हो सकती है। नये शादीशुदा लोगों को गर्भावस्था में क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए इसकी ज्यादा जानकारी नहीं होती और ऐसे में वे घर के बड़ों से पूछने में थोड़ा हिचकिचाहट भी महसूस करते है। प्रेग्नेंट महिला अगर अपनी केयर ठीक से नहीं करती तो गर्भ में पल रहे बच्चे को भी मुश्किलें होने लगती है।

अगर महीने के महीने बच्चे के विकास को ध्यान से देखे तो आप गर्भाशय में पल रहे बच्चे का विकास महसूस कर सकेंगे। गर्भवती महिला के लिए प्रेगनेंसी के पहले 3 महीने बहुत अहम् होते है आज इस लेख में हम जानेंगे गर्भावस्था की पहली तिमाही माँ अपनी देखभाल कैसे करे आइये जाने प्रेग्नेन्सी केयर टिप्स, first month to third month pregnancy care tips in hindi.

प्रेगनेंसी में माँ और बच्चे की देखभाल, pregnancy in hindi month by month

 

प्रेगनेंसी में माँ और बच्चे की देखभाल कैसे करे

Pregnancy in Hindi Month by Month

 

पहला महीना – First Month

  1. Pregnancy first week in hindi, गर्भावस्था के पहले के महीने में गर्भनाल का विकास होता है।
  2. गर्भनाल महिला के शरीर में वह अंग है जिससे गर्भवती महिला द्वारा खाया गया आहार गर्भ में पल रहे बच्चे तक जाता है।
  3. ये अंग बच्चे के मल मूत्र को भी एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाता है।
  4. प्रेगनेंसी के शुरुआती समय में महिला के गर्भाशय में एक काला घेरा सा उभरता है। ये वो समय होता है जब मुंह गला और बच्चे के जबड़े का निचला हिस्सा विकसित होता है।
  5. इस दौरान बच्चे में रक्त कोशिकाएं आकार लेने लगती है और बच्चे के शरीर में रक्त संचार शुरू हो जाता है।

 

दूसरा महीना – Second Month

  • दूसरे महीने में बच्चे के शरीर का विकास बढ़ने लगता है। इस दौरान बच्चे का चेहरा आकार लेने लगता है। शरीर के ऊपरी व निचले हिस्से में छोटे भाग भी उभरने लगते है, जिन्हें हाथ पैर कहते है।
  • इस महीने पैर की उंगलियां, अंगूठे और आँखे विकसित होती है।
  • Pregnancy 2 month में डॉक्टर बच्चे की रीढ़ की हड्डी, कोशिकाएं और दिमाग की ग्रोथ भी महसूस करते है।
  • इस महीने में हड्डियां बढ़ने की प्रक्रिया शुरू होती है। ये वो समय है जब धीरे धीरे भ्रूण हिलने लगता है पर इसकी गति धीमी होती है जिसे माँ समझ नहीं पाती।

 

तीसरा महीना – Third Month

  1. प्रेगनेंसी के तीसरे महीने में बच्चा विकसित हो जाता है और उसकी सोनोग्राम की पिक्चर में आप उसके शरीर का हर हिस्सा जैसे आँखे, नाक, हाथ और पैर आसानी से देख सकते है।
  2. इस दौरान बच्चा अपनी मुट्ठी और मुंह को खोलता व बंद करता है और बच्चे का प्रजनन अंग का भी विकास हो जाता है।
  3. तीसरे महीने में बच्चे की औसत लंबाई 7 से 10 सेंटीमीटर तक होती है।

 

प्रेगनेंसी में बच्चे का विकास

  • गर्भवती महिला के लिए गर्भावस्था के पहले के 3 महीने मुश्किल भरे होते है क्योंकि पहले तीन महीने में बच्चे का विकास शुरू होता है।
  • पहले 3 month में प्रेग्नेंट वीमेन को ज्यादा थका देने वाला कोई भी काम, ज्यादा तनाव और ज्यादा उछल कूद नहीं करनी चाहिए।
  • ये सब कुछ ऐसे काम है जिनसे गर्भपात होने का खतरा अधिक होता है।
  • ये लेख जानकारी मात्र है अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से जरूर बात करे।

 

पहले तीन महीने की प्रेगनेंसी में माँ और बच्चे की देखभाल कैसे करे, pregnancy care tips in hindi month by month का ये लेख कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास एक महीने से नौ महीने प्रेगनेंसी केयर टिप्स से जुड़े सुझाव है तो हमारे साथ साँझा करे।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!