पेट की सभी बीमारी का इलाज 10 आसान घरेलू नुस्खे और उपाय

पेट की बीमारी का इलाज घरेलू उपाय और नुस्खे इन हिंदी: आजकल हमारी जीवनशैली और खाने पीने के तरीके ऐसे हो गए है की हर दूसरा व्यक्ति पेट के रोग से परेशान है जिसमें सबसे पहले है पेट की गैस और कब्ज। इसके इलावा बार बार पेट खराब होना, एसिडिटी, पेट में इन्फेक्शन, बड़ी व छोटी आंत के रोग और पाचन शक्ति कमजोर होना। अक्सर कुछ लोगों को खाना खाने के बाद पेट में दर्द और भारीपन महसूस होता है। पेट रोग के लक्षण दिखते ही तुरंत इलाज करना चाहिए नहीं तो ये दूसरे रोगों का कारण बन सकते है। पेट के रोग का उपचार करने के लिए सबसे पहले इसके कारण पता करना जरुरी है ताकि सही तरीके से समस्या का समाधान हो सके। आज इस लेख में हम पेट के रोगों का आयुर्वेदिक इलाज और देसी दवा के बारे में जानेंगे, ayurvedic treatment and home remedies (gharelu nuskhe) for stomach disease in hindi.

पेट की बीमारी का इलाज घरेलू नुस्खे, Pet ki bimari ka ilaj in hindi

 

पेट की बीमारी के लक्षण

  1. हर समय पेट में जलन दर्द और एक खिचाव सा महसूस होना।
  2. खाना खाने के तुरंत बाद पेट में भारीपन और दर्द होना।
  3. पेट फूलना और हर समय पेट में कुछ तकलीफ रहना।
  4. पेट में गैस का दर्द रहना और गैस ना निकलना।
  5. उल्टी, घबराहट, दस्त, बदहजमी और भूख कम होना।
  6. खाना खाते ही टॉयलेट का प्रेशर बनना।
  7. तेजी से वजन गिरना और खाया पिया शरीर को नहीं लगना।

 

पेट की बीमारी का इलाज और घरेलू नुस्खे

Pet Ki Bimari Ka ilaj Gharelu Nuskhe in Hindi

 

1. पेट में गैस

1. पेट में गैस बनने से कई लोग परेशान है। फास्ट फूड खाने, लम्बे समय तक भूखे रहने और दवाओं का सेवन ज्यादा करने से पेट में गैस अधिक बनती है।

2. गैस ना निकलने पर ये पेट के अंदर ही घूमती रहती है जिस वजह से पेट में भारीपन और दर्द होने लगता है।

3. पेट की गैस का उपचार के लिए 2 चम्मच पानी, 1 नींबू का रस और थोड़ा सा काला नमक मिला ले। इस मिश्रण में अब खाने वाला सोडा चुटकी भर मिला ले और तुरंत पी जाए।

4. पानी ज्यादा पिए, फास्ट फुड से दूर रहे और योग एक्सरसाइज से दिन की शरुआत करे।

5. पवनमुक्तासन गैस के रोग के उपाय का अच्छा तरीका है। हर रोज इस योग को करने पर पेट की गैस निकलने लगती है और कब्ज से भी राहत मिलती है।

 

2. कब्ज होना

1. कब्ज के रोग में मल त्याग करने के लिए ज्यादा जोर लगाना पड़ता है और ऐसे में ठीक से पेट साफ नहीं हो पाता। ज्यादा समय तक कब्ज रहने से बवासीर की समस्या भी हो सकती है।

2. कब्ज के इलाज के लिए सोने से पहले हल्के गरम पानी के साथ त्रिफला चूर्ण ले।

3. पपीता और दूध से भी इस रोग से छुटकारा मिलता है।

 

3. एसिडिटी और पेट में जलन

  1. सीने और पेट में जलन होने का एक बड़ा कारण एसिडिटी है जिसे पेट में तेजाब की समस्या से भी जानते है।
  2. हमारे शरीर में भोजन को पचाने के लिए एसिड बनता है पर जब ये ज्यादा बनने लगे तो acidity होने लगती है।
  3. ज्यादा मिर्च मसाले वाला खाना खाने से ये प्रॉब्लम अधिक होती है।
  4. इसके समाधान के लिए प्रतिदिन सुबह उठते ही सबसे पहले पानी पिए और ज्यादा मसाले वाले खाने से परहेज करे।
  5. फल खाएं जैसे पपीता, केला, तरबूज और खीरा। नारियल पानी पीने से भी इस रोग से छुटकारा पाने में मदद मिलती है।

 

4. उल्टी आना और जी मचलना

  • जी घबराना और उल्टी होना कोई बीमारी नहीं पर ये दूसरी बीमारी के लक्षण में से एक है।
  • अगर आप को भी घबराहट या उल्टी हो रही है है तो इसके कारण जान कर तुरंत इलाज शुरू करे।
  • अक्सर सफर के दौरान कुछ लोगों का जी घबराता है और भी उल्टी होती है।
  • ऐसे में हल्का भोजन करे और दही खाने से भी आराम मिलता है।

 

5. पेट में अल्सर

  • छोटी आंत में होने वाले घाव को पेट में अल्सर कहते है।
  • दर्द दूर करने वाली दवा का अधिक सेवन करने से pet me ulcer की परेशानी अधिक होती है।
  • ज्यादा मिर्च और मसाले वाला खाना खाने से भी ये रोग हो सकता है।
  • इस रोग का उपचार में फाइबर वाले फुड अधिक खाना चाहिए।
  • योग क्रियाओं और योगासन से भी इस बीमारी से राहत मिलती है।

 

6. दस्त लगना

1. अचानक से मौसम में बदलाव आना, तेज मिर्च मसाले वाली चीजें खा लेना कुछ ऐसे कारण है जिससे दस्त हो जाते है।

2. दस्त का इलाज अगर जल्दी ना किया जाये तो कमजोरी आने लगती है।

3. ऐसे में जल्दी पचने वाला और हल्का भोजन खाना चाहिए जैसे की दलिया और मुंग दाल की खिचड़ी।

4. इसबगोल भूसी, दही और केला खाने से दस्त में जल्दी आराम मिलता है।

 

पेट रोग के उपाय रामबाण योग: Yoga se pet ke rog ka ilaj in hindi

  • योग में कुछ ऐसे आसन है जो पेट के रोग के उपाय करने और जड़ से खत्म करने में रामबाण है।
  • कपालभाति पेट की सभी बीमारी का इलाज करने और उनसे बचने का अच्छा तरीका है। रोजाना 15 मिनट खाली पेट कपालभाति प्राणायाम करे और अनुलोम विलोम भी करे।
  • खाना खाने के बाद पेट में दर्द होना, कब्ज और गैस के रोग दूर करने में वज्रासन काफी फायदा करता है।
  • गैस और कब्ज जैसे रोगों में पवनमुक्तासन करना बहुत उपयोगी है। हर रोज खाली पेट सुबह शाम 5-5 बार ये आसन करे।
  • अग्निसार क्रिया पेट के रोग दूर करने और पाचन शक्ति बढ़ाने में असरदार है।
  • वज्रासन योग को आप खाना खाने के बाद भी कर सकते है। भोजन के बाद इस योगासन को करने पर खाना जल्दी पच जाता है।
  • पेट रोग के उपाय के लिए जो आसन ऊपर बताये गए है उन्हें किसी योग गुरु की देख रेख में ही करे।

 

दोस्तों पेट की बीमारी का इलाज घरेलू उपाय और नुस्खे, pet ki bimari ke liye gharelu nuskhe ilaj in hindi का ये लेख कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास पेट के रोग के उपचार की दवा और लक्षण से जुड़े सुझाव है तो हमारे साथ साँझा करे।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!