लिकोरिया सफ़ेद पानी का इलाज के 10 रामबाण घरेलू नुस्खे

लिकोरिया का इलाज इन हिंदी: लिकोरिया को सफ़ेद पानी, वाइट डिस्चार्ज या श्वेत प्रदर से भी जानते है जो महिलाओं को होने वाला रोग है। इस रोग में लड़की के गुप्तांग से चिप चिपा बदबूदार सफ़ेद रंग का पानी निकलने लगता है जिससे शरीर में इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है। आप लिकोरिया ट्रीटमेंट के लिए बाबा रामदेव पतञ्जलि से आयुर्वेदिक दवा भी ले सकते है पर मेडिसिन के इलावा देसी इलाज और घरेलू उपचार से भी सफेद पानी का आना की समस्या का समाधान कर सकते है। आज इस लेख में हम जानेंगे घरेलु उपाय और आयुर्वेदिक नुस्खे अपनाकर सफेद पानी का इलाज कैसे करे, natural ayurvedic home remedies treatment tips to stop white discharge (likoria) problem in hindi.

सफ़ेद पानी की समस्या किसी भी लड़की और शादीशुदा महिला को हो सकती है पर ये परेशानी जादातर शादीशुदा महिलाओं में होती है। गर्भवती महिलाओं को भी कई बार गर्भावस्था मे सफेद पानी आना की समस्या से जूझना पड़ता है।

लिकोरिया का इलाज बाबा रामदेव, White Discharge Treatment in Hindi

 

लिकोरिया क्या होता है 

मासिक धर्म (पीरियड्स) के समय पर थोड़ा बहुत सफ़ेद रंग का स्त्राव होना आम है पर ये रिसाव जब गाढ़ा नीला, पीले रंग या हरा हो और अधिक हो तो इसे लिकोरिया प्राब्लम अथार्त सफेद पानी की समस्या कहते है जो कुछ हफ़्तों से लेकर कुछ महीनों तक रह सकती है जिस कारण शरीर में कमज़ोरी आने लगती है।

 

लिकोरिया होने के कारण : Causes

  • अधिक संभोग करना
  • यूरिन इंफेक्शन होना
  • बार बार गर्भपात करवाना
  • गुप्तांग की सफाई ना करना

 

सफ़ेद पानी / लिकोरिया के लक्षण : Symptoms

गुप्तांग पर खुजली होना और कमर दर्द करना लकोरिया के कुछ आम लक्षण है। इसके इलावा और भी कुछ लक्षण है जो ल्यूकोरिया होने पर दिखते है।

  • चक्कर आना
  • हाथ पैर दर्द करना
  • कमज़ोरी महसूस करना
  • आँखो के नीचे डार्क सर्कल्स बनना
  • योनि में बदबू आना और खुजली होना

 

लिकोरिया का इलाज के उपाय और घरेलू नुस्खे

White Discharge Treatment in Hindi

 

आप अगर सफेद पानी की समस्या से ग्रस्त है और इसके ट्रीटमेंट के लिए देसी इलाज और घरेलू नुस्खे जानना चाहती है तो निचे लिखे हुए उपाय पढ़े और नियमित रूप से सही तरीके से करे।

1. एक चम्मच प्याज का रस एक चम्मच शहद में मिलाकर सेवन करे। इस उपाय को निरंतर करने पर श्वेत प्रदर दूर होने लगता है।

2. लिकोरिया का देसी इलाज में 1 पक्का हुआ केला घी या फिर मक्खन के साथ खाए। दिन में 2 बार इस उपाय को कर सकते है।

3. पक्के हुए केले को बीच से काट ले और इसमें एक ग्राम कच्ची फिटकरी डाले और दिन में एक बार खाए। इस नुस्खे को एक हफ्ते तक हर रोज करने पर लिकोरिया प्राब्लम से आराम मिलने लगेगा।

4. एक चम्मच आंवला पाउडर दो चम्मच शहद में मिलाकर लेने से भी सफ़ेद पानी का आना रोकने में मदद मिलती है।

5. योनि से बदबू और खुजली हटाने के लिए फिटकरी के पानी से योनि की दिन में 2 बार सफाई करे।

6. लिकोरिया का समाधान घरेलु तरीके से करने के लिए सो ग्राम भिंडी 1 लीटर पानी में पंद्रह मिनट तक उबाले फिर ठंडा होने के बाद छान कर इसमें शहद मिलाये और सेवन करे। इस होम रेमेडी को कुछ दिन लगातार करने पर श्वेत प्रदर से राहत मिलती है।

7. गुलाब के पत्तों को पीस कर दिन में दो बार इसका 1/2 चम्मच दूध के साथ ले। इस उपाय से सफेद पानी की बीमारी से छुटकारा मिलेगा।

8. सफ़ेद पानी की समस्या के दिनों में प्रतिदिन भुने हुए चने खाना चाहिए और डाइट में ऐसे फुड शामिल करे जिससे शरीर को आवश्यक पोषक तत्व मिल सके।

9. वाइट डिस्चार्ज प्रॉब्लम और खुजली से निजात पाने के लिए अमरूद के पत्ते ले और 1/2 घंटे तक पानी में उबाले। अब ठंडा होने के बाद इसे छान ले और इस पानी से दिन में दो बार योनि को धोए।

10. एक चम्मच शहद 1 चम्मच तुलसी के रस में मिलाकर इसका सेवन करने से भी आराम मिलता है।

 

सफेद पानी का आयुर्वेदिक उपचार

  • नीम की छाल को पीस कर इसका पाउडर बना ले और इसे शहद में मिलाकर दिन में 2 बार सेवन करे। इस देसी उपचार से खून का आना बंद होता है।
  • सफेद पानी का रामबाण इलाज के लिए दालचीनी, सफेद जीरा, अशोक छाल और इलायची के बीज पानी में उबाल ले और काढ़ा बना ले, ठंडा होने के बाद इसे छान ले। दिन में दो से तीन बार इस काढ़े को पीने से खूनी लिकोरिया भी ठीक होने लगता है।

 

लिकोरिया का इलाज बाबा रामदेव इन हिंदी

बाबा रामदेव लिकोरिया का घरेलू उपचार करने के लिए शीशम के पत्ते को उत्तम औषधी बताते है। आठ से दस शीशम के पत्ते पीस कर पानी में मिला कर सेवन करे। इस उपाय को करने के लिए हमेशा ताजे पत्ते ही प्रयोग करे। किसी कारण वश अगर आप हर बार ताजे पत्ते ना प्रयोग कर सके तो पत्तों को छाया में सूखा ले और पीस कर पाउडर बना ले और दवा की तरह प्रयोग करे।

लिकोरिया ट्रीटमेंट इन पतंजलि, अगर आप सफ़ेद पानी के उपाय के लिए आयुर्वेदिक मेडिसिन लेना चाहते है तो बाबा रामदेव पतंजलि स्टोर से ले सकते है।

 

गर्भावस्था में सफेद पानी का इलाज

1. White discharge during pregnancy in hindi, गर्भावस्था में शरीर में कई प्रकार के बदलाव होते है जिसमें योनि स्राव भी एक है।

2. अगर डिस्चार्ज का रंग सामान्य है और उसमें से बदबू नहीं आ रही तो इस बात की जादा संभावना है कि ये हार्मोन के कारण हुआ है। ये स्वस्थ योनि के संकेत भी है। अगर कभी कभी डिस्चार्ज जादा हो तो ये इंफेक्शन के संकेत हो सकते है जो योनि में मौजूद बैक्टीरिया के संतुलन बिगड़ने से हो सकता है।

3. प्रेगनेंसी के दौरान अगर गर्भवती महिला को सफ़ेद पानी की समस्या हो तो डॉक्टर से मिले और जांच करवाये। Amniotic fluid के रिसाव से भी श्वेत प्रदर की समस्या हो सकती है, इसलिए बिना किसी लापरवाही किये डॉक्टर से मिले और जाने ये समस्या क्यों हो रही है।

 

सफ़ेद पानी रोकने के उपाय : लिकोरिया से कैसे बचे

  • खाने पीने में हेल्थी फ़ूड खाये
  • सहवास करने के बाद योनी को साफ़ करे
  • नहाते वक़्त गुनगुने पानी से योनी को धोए
  • पेशाब करने के बाद पानी से योनि को साफ़ करे
  • यूरिन इंफेक्शन होने पर इलाज में लापरवाही ना करे

 

सफेद पानी की प्रॉब्लम के समाधान के लिए जरुरी है की गुप्तांग को साफ़ रखे और इस रोग को छिपाए नहीं बल्कि घर में किसी बड़ी महिला से बात करे और डॉक्टर की सलाह से ट्रीटमेंट शुरू करे।

 

लिकोरिया का इलाज के उपाय, White Discharge Treatment in Hindi का ये लेख आप को कैसा लगा हमें कमेंट के जरिये बताये और अगर आपके पास सफ़ेद पानी का उपचार के घरेलू नुस्खे या आयुर्वेदिक दवा से जुड़े अनुभव या सुझाव है तो हमारे साथ साँझा करे।

You may also like...

1 Response

  1. j. s. rana says:

    very very good

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!