हाई और लो ब्लड प्रेशर के लक्षण कारण और उपाय

हाई और लो ब्लड प्रेशर के लक्षण कारण और उपाय: किसी बीमारी के लक्षण अगर शुरुआत में ही दिख जाये समय रहते ही उसे बढ़ने बढ़ने से रोका जा सकता है और रोग का इलाज किया जा एकता है। इसके अतिरिक्त रोग का उपचार सही तरीके से किया जा सके उसके लिए उसके कारणों का पता होना भी जरुरी है। आजकल हाई और लो ब्लड प्रेशर की समस्या अधिक उम्र के लोगों के साथ साथ छोटी उम्र के लोगों में भी देखने को मिल रही है। इस लेख में आज हम जानेंगे हाई और लो बीपी के लक्षण क्या होते है, high and low blood pressure symptoms in hindi.

ब्लड प्रेशर के लक्षण और कारण,High blood pressure ke lakshan in hindi

 

ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए

  • शरीर में खून की नसों पर पड़ने वाले रक्त के दबाव को ब्लड प्रेशर कहते हैं। डॉक्टर बीपी को नापने के लिए  जिस मशीन का इस्तेमाल करते है उसे स्फिग्नोमैनोमीटर कहा जाता है।
  • साधारण व्यक्ति का ब्लड प्रेशर 120/80 mm तक होता है और बड़ी उम्र के लोगों में 140/90 mm तक उनका बीपी हो सकता है।
  • जब बी पी 120/80 से अधिक हो तो ये हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण है और जब ये कम हो तो इसे लो बी पी कहते है।
  • हाई बी पी की स्थिति में हमारे हृदय को धमनियों में रक्त भेजने में जादा मेहनत करनी पड़ती है जिस कारण हार्ट कमजोर होने लगता है।
  • ब्लड प्रेशर जब 90/60 से भी कम हो तो शरीर में खून का परवाह धीमा हो जाता है।
  • जिन्हें शुगर और बी पी दोनों की समस्या है उनका ब्लड प्रेशर 30/80 या फिर इससे कम रहता है।

 

ब्लड प्रेशर के लक्षण और कारण

Blood Pressure Lakshan in Hindi

देखने पर बी पी के कोई लक्षण और शरीर को ज्यादा परेशानी नहीं दिखती पर जब ये बीमारी बढ़ती है तो स्तिथि गंभीर हो जाती है जैसे लकवा और हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारी होना। बीपी को घरेलू नुस्खे और उपाय से कण्ट्रोल में रखा जा सकता है और इसका उपचार भी कर सकते है।

 

हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण

बीपी हाई हो जाये तो धमनियां सख्त होना, गुर्दे के रोग, आँखे खराब होना, दिल के रोग और मस्तिष्क खराब होने का खतरा होता है। हाई ब्लड प्रेशर एक धीमे  जहर क तरह काम करता है जिससे धीरे धीरे शरीर के अंग खराब होने लगते है। अगर समय रहते इसकी पहचान करके देखभाल की जाये तो high bipi के असर को कम किया जा सकता है। आइये हाई बीपी के लक्षण जानते है।

  1. सिर में तेज दर्द होना
  2. ज्यादा तनाव और थकावट होना
  3. सीने में भारीपन व दर्द महसूस होना
  4. कमजोरी महसूस करना
  5. सांस लेने में भी दिक्कत आना
  6. घबराहट महसूस होना
  7. बोलने और समझने में कठिनाई आना
  8. अचानक से हाथों और पैरों में सुन्नपन आना
  9. धुंधला दिखाई देना
  10. जाने हाई ब्लड प्रेशर का इलाज कैसे करे 

 

लो बीपी के लक्षण

एक दम चक्कर आना और कमजोरी महसूस होना लो ब्लड प्रेशर के लक्षण है। इसके अतिरिक्त कुछ अन्य लक्षण नीचे भी है।

  • भूख नहीं लगना
  • डिप्रेशन, थकान और निराशा
  • आँखे लाल होना
  • त्वचा पीली पड़ना
  • धुंधला दिखाना
  • सांस तेज आना
  • जी मचलना व ज्यादा प्यास लगना
  • दिल जोर से धड़कना

 

ब्लड प्रेशर के कारण

ब्लड प्रेशर बढ़ने और कम होने की एक वजह अनुवांशिक भी है। मतलब परिवार में अगर किसी को हाई बीपी की समस्या है तो उनके बच्चों में भी बीपी की समस्या होने की संभावना होती है ।

 

हाई बीपी के कारण

  1. बीपी बढ़ाने का एक बड़ा कारण मोटापा होता है। जो लोग मोटे होते है उन्हें हाई बीपी का खतरा दूसरे लोगों से ज्यादा होता है।
  2. बिल्कुल भी शारीरिक मेहनत ना करना। जो व्यक्ति खेल कूद, व्यायाम या किसी भी प्रकार का शारीरिक श्रम नहीं करता उसे high blood pressure की समस्या हो सकती है।
  3. रक्त धमनियां कमजोर होना, शुगर, किडनी के रोग, दिल के रोग जैसी बिमारियों के कारन भी बीपी हाई हो जाता है।
  4. धूम्रपान, ज्यादा जंक फूड खाना, नमक ज्यादा खाना और शराब का सेवन अधिक करना।
  5. गर्भावस्था के दौरान प्रेग्नेंट महिला को भी बीपी की समस्या होती है।

 

लो ब्लड प्रेशर के कारण

  • जादा गुस्सा करने से लो बीपी की समस्या हो जाती है।
  • संतुलित भोजन नही खाने से शरीर बीमार पड़ने लगता है।
  • तनाव जादा लेना लो blood pressure के कारण में प्रमुख है।
  • मोटापा जादा होना भी लो बी पी की एक वजह है।
  • शरीर में खून की कमी होना।

 

दोस्तों लो और ब्लड प्रेशर के लक्षण और कारण, Blood pressure ke lakshan in hindi का ये लेख कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास हाई और लो बीपी के लक्षण कारण और उपाय है तो हमारे साथ साँझा करे।

You may also like...

1 Response

  1. Guddi says:

    sir mera B. P. 70 aur heart beat 135 rehti hai aesa kyu hota hai. B. P. low hai aur meri age 23 hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!