गिलोय के 10 अचूक फायदे और उपयोग करने का तरीका

गिलोय के फायदे और उपयोग का तरीका: आजकल लोगों का रुझान घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक तरीके से उपचार करने में बढ़ रहा है और ऐसे में गिलोय एक ऐसी औषधि कई प्रकार के बिमारियों के इलाज में उपयोग होती है। गिलोय एक बेल होती है जो अक्सर पेड़ों पर लिपटी नजर आती है। इसकी बेल के पत्ते पान के पत्ते जेसे होते है। ये बेल आप अपने घर पर भी उगा सकते है, इसे गमले में लगा कर रस्सी से बाँध दे। आज हम इस लेख में जानेंगे गिलोय कैसे लाभ करती है, giloy benefits in hindi.

गिलोय के फायदे, Giloy ke fayde in hindi

 

गिलोय से रोगों का रामबाण इलाज

  1. ये आयुर्वेद की उत्तम औषधि है इसका रस अनेक प्रकार की बीमारियां ठीक करता है।
  2. बेल का रस, इसके पत्ते और इसकी जड़ हर चीज उपयोगी होती है। इसके ताने में स्टार्च व पत्तों में प्रोटीन, कैल्शियम और फास्फोरस पाया जाता है।
  3. गिलोय में एंटीबायोटिक गुण होते है जो शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ाता है।
  4. इस बेल का एक छोटा सा टुकड़ा जमीन में डाल दे तो ये पौधा बन जाता है, ये गमले में भी आसानी से उगाई जा सकती है।

 

गिलोय के फायदे और उपयोग का तरीका

Giloy ke fayde in hindi

 

1. खून साफ करे

  • गिलोय की बेल का रस पानी के साथ सुबह खाली पेट पीने से शरीर में खून साफ रहेगा और कभी खून ब्लड से जुड़ी कोई बीमारी नहीं होगी।

 

2. कैंसर

  • गिलोय की जड़ों में काफी असरदार एंटीबायोटिक तत्व मौजूद होते है जो कैंसर से बचाव और उसके उपचार में उपयोगी है। गिलोय, तुलसी, 4-5 नीम के पत्ते और गेंहू के ज्वारे, ये सब मिला कर इनका रास पीने से कैंसर जैसे गंभीर रोग में भी फायदा मिलता है।

 

3. गठिया

  • शहद के साथ गिलोय का चूर्ण कफ, सोंठ के साथ गिलोय के सेवन से गठिया जैसे रोग में काफी आराम मिलता है।

 

4. दिल सम्बंधित समस्याएं

  • हाई कोलेस्ट्रॉल कम करने और खून में शर्करा का स्तर नियंत्रित रखने में गिलोय उपयोगी होती है व दिल से जुड़े रोगों से बचने में भी ये उपयोगी है।

 

5. कमजोरी दूर करे

अगर आप अपने शरीर में कमजोरी महसूस करते है तो हफ्ते में 3 दिन गिलोय का प्रयोग करे और साथ में थोड़ा शहद भी खाए। इस उपाय से कुछ ही दिनों में शरीर चुस्त और फिट दिखने लगेगा।

 

6. खून की कमी

  • गिलोय शरीर की रोगों से लड़ने की शक्ति को बढ़ाता है व खून की कमी को भी दूर करता है। शरीर में ब्लड की कमी होने पर शहद में गिलोय का रस मिला कर सेवन करे।

 

7. डेंगू में रामबाण इलाज

  • गिलोय बेल का 6 इंच का टुकड़ा, तुलसी के 4-5 पत्ते, पपीते के 3 पत्ते, थोड़ा एलोवेरा और गेंहू के ज्वारे। इन सब को पीस कर रस निकाल कर पीने से शरीर में प्लटलेट तेजी से बढ़ने लगते है। डेंगू और चिकनगुनिया के रोग में ये उपाय रामबाण काम करते है।

 

8. बुखार

  1. बुखार दूर करने में गिलोय एक अच्छी आयुर्वेदिक औषधि है। शहद के साथ गिलोय के रस का सेवन करने से बुखार जल्दी उतरने लगता है। तेज बुखार के साथ अगर खाँसी भी है तो इसमें पीपल का चूर्ण भी मिलाए।
  2. मलेरिया और टाइफाइड के उपचार में भी गिलोय फायदेमंद है।
  3. थोड़ी खांड गिलोय के रस में मिला कर सेवन करने से पित के बुखार में आराम मिलता है। गिलोय का रस और शहद मिला कर पीने से पित का बढ़ना रुकता है और साथ ही कब्ज भी दूर होती है।

 

9. खुजली

  • खून साफ ना होना खुजली होने का कारण है। अगर खून में जमा विषैले पदार्थ निकल जाए तो खुजली की समस्या भी दूर हो जाएगी।
  • शहद के साथ गिलोय का जूस पिए और हल्दी के साथ गिलोय के पत्ते पीस कर खुजली वाली जगह पर लगाए।

 

10. उल्टी

  • गर्मी के मौसम में अक्सर उल्टी आने की शिकायत होती है। अगर उल्टी हो तो शहद या मिश्री गिलोय के रस में मिला कर दिन में दो बार पिए।

 

11. पीलिया

  • पीलिया ठीक करने के लिए 1 चम्मच त्रिफला चूर्ण, 1 चम्मच गिलोय चूर्ण और काली मिर्च शहद में मिला कर चाट ले। 1 गिलास मठे में 1 चम्मच गिलोय के पत्तों का रस मिला कर सुबह सुबह पीने से पीलिया ठीक होता है।

 

12. टीबी का रोग

टीबी के मरीज को शहद और इलायची के साथ गिलोय के रस का सेवन करना चाहिए।

 

चेहरा सुंदर बनाने के लिए गिलोय

  • चेहरे पर झुर्रियां और पिंपल्स है तो गिलोय पीस कर इसका लेप चेहरे पर लगाए और 15 मिनट बाद चेहरा ठंडे पानी से धो ले। इस उपाय से चेहरे के दाग धब्बे और झाइयां दूर होती है। गिलोय का पानी भी पिए इससे खून साफ होगा और पिंपल्स नहीं निकलेंगे।
  • फटी त्वचा ठीक करने के लिए दूध में गिलोय का तेल मिला कर गरम कर ले फिर इसे ठंडा होने पर अपनी त्वचा पर लगाए। इससे त्वचा साफ और मुलायम होती है।
  • बरसात के मौसम में 1 चम्मच गिलोय का रस प्रतिदिन पीने से किसी भी रोग की सम्भावना 50% तक कम हो जाती है।

 

दोस्तों गिलोय के फायदे और उपयोग का तरीका, giloy ke fayde in hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास गिलोय के उपाय या कुछ सुझाव है तो हमारे साथ साँझा करे।

You may also like...

1 Response

  1. Ashish kumar says:

    very nice

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!