गले और छाती में जमा कफ (बलगम) का इलाज 5 आसान उपाय

गले और छाती में कफ (बलगम) का इलाज और उपाय इन हिंदी: सर्दी जुखाम, वायरल बुखार, इन्फेक्शन और ठंड लगने के कारण अक्सर गले में कफ का बनना की शिकायत होने लगती है। लगातार नाक बहना, छाती (सीने) और गले में कुछ जमा हुआ महसूस होना, सांस लेने में तकलीफ होना, गले में खराश खिचखिच रहना, छाती जाम होना, ये सब कफ के लक्षण होते है। गले की बलगम से छुटकारा पाने और बलगम वाली खांसी को दूर करने के लिए कुछ लोग दवा और सिरप का सहारा लेते है पर देसी इलाज और आयुर्वेदिक उपचार अपना कर आसान तरीके से कफ निकालने के घरेलू उपाय किये जा सकते है। आज इस लेख में हम जानेंगे गले और छाती में जमा कफ कैसे निकाले, natural ayurvedic home remedies (gharelu nuskhe) for cough balgam treatment in hindi.

वैसे तो कफ की समस्या ज्यादा गंभीर नहीं होती पर जब ये लम्बे समय तक रहे तो सांस से जुड़े रोग हो सकते है। अगर बलगम में खून के कुछ अंश दिखे तो तुरंत डॉक्टर से मिले और जाँच कराये ताकि किसी भी तरह की गंभीर बीमारी से बचा जा सके।

कफ का इलाज और आयुर्वेदिक उपचार, Balgam ka ilaj in hindi

 

बलगम जमने के कारण

  • ज्यादा धूम्रपान करना
  • वायरल इन्फेक्शन होना
  • साइनस का रोग
  • सर्दी जुखाम और फ्लू

 

छाती में कफ के लक्षण

  1. सांस लेने और खाँसने पर घरघराहट की आवाज आना
  2. गले में खराश रहना
  3. बलगम वाली खांसी होना
  4. सीने में जकड़न और दर्द महसूस होना
  5. लगातार छीकें आना और सांस लेने में तकलीफ होना

 

कफ का इलाज घरेलू उपाय और आयुर्वेदिक उपचार

Cough Ka ilaj Ke Gharelu Nuskhe Upay in Hindi

 

बलगम से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा तरीका है इससे शरीर से बाहर निकालना क्योंकि बलगम निगलने से ये वापस शरीर में चली जाती है और बहती नाक को अंदर रखना परेशानी बढ़ा सकता है। आइये जाने घरेलू नुस्खे से कफ निकालने के उपाय कैसे करे।

1. गले की बलगम का देसी इलाज करने के लिए दो कप पानी में 30 काली मिर्च पीस कर उबालें, जब पानी एक चौथाई रह जाये तब इसे छान कर इसमें 1 चम्मच शहद मिलाये और सुबह शाम इसका सेवन करे। इस होम रेमेडीज से कफ वाली खांसी और कफ दोनों से छुटकारा मिलता है।

2. लहसुन खाने से गले में जमा कफ बाहर निकलता है, इस desi nuskhe से टी. बी. के रोग में भी राहत मिलती है।

3. अदरक छील कर इसका छोटा टुकड़ा मुंह में रख कर चूसने से कफ आसानी से बाहर निकल जाती है।

4. छोटे बच्चे की छाती में जमा कफ (baby cough) निकालने के लिए गाय के घी बच्चे की छाती पर मले। इस उपाय से जमा हुआ बलगम बाहर निकल जाता है।

5. एक चम्मच शहद और 2 चम्मच निम्बू का रस गर्म पानी में मिला कर पिए। इस उपाय से गला साफ़ होगा क्यूंकि नींबू बलगम को काटने का काम करेगा और शहद से गले को आराम मिलेगा।

6. कफ का आयुर्वेदिक रामबाण इलाज, गले में बलगम, खांसी, छाले, खराश, जलन, दर्द, टॉन्सिल और गले की कोई भी समस्या हो कच्ची हल्दी का रस मुंह खोल कर गले में डालें और कुछ समय चुप बैठे। जैसे ही ये रस गले से निचे उतरेगा परेशानी कम होने लगेगी। छोटे बच्चों को जब टॉन्सिल्स का दर्द हो तो ये उपाय जरूर करे। गले के रोग का उपचार के लिए ये अचूक दवा है।

7. छोटे बच्चों की कफ का उपचार करने के लिए थोड़ा सा प्याज का रस ले और इसमें थोड़ी शक्कर मिला कर बच्चे को दे।

 

बलगम वाली खांसी का इलाज और घरेलू उपाय

  • बलगम वाली खांसी होने पर बार बार खांसने पर भी कफ बाहर नहीं निकल पाता और जब तक chest और गले की बलगम बाहर नहीं निकलती तब तो खांसी होती रहती है।
  • दो कप पानी में मुलहठी चूर्ण 5 ग्राम की मात्रा में डाल कर उबालें और जब पानी आधा कप रह जाये तब इसे छान ले। इस काढ़े को आधा सुबह और आधा शाम को पिए। 2 से 3 दिन ये उपाय करने पर कफ पतला हो कर आसानी से बाहर निकल जायेगा और खांसी भी ठीक होने लगेगी।
  • अनार का रस गर्म कर के पिने से खांसी तुरंत ठीक हो जाती है।
  • कफ वाली खांसी का घरेलू उपचार में काली मिर्च दवा का काम करती है। काली मिर्च चूसने से खांसी में आराम मिलता है।

 

कफ को दूर करने के आसान उपाय

  • पानी ज्यादा पिए, शरीर से बलगम बाहर निकालने के लिए दिन भर में हर घंटे पानी पिए।
  • सीने, गले और नाक से बलगम तोड़ने के लिए भाप ले। ये बलगम खत्म करने का तरीका काफी आसान और फायदेमंद है।
  • Gale mein balgam ka ilaj, एक गिलास गरम पानी में 1 चम्मच नमक मिला कर इससे गरारे करे। दिन में 2 से 3 बार ये उपाय करने पर नाक और गले में जमा बलगम बाहर निकलने लगती है।
  • बलगम बनने से रोकने के लिए डेयरी प्रोडक्टस का सेवन ना करे जैसे की चीज़, दूध, दही और आइसक्रीम। इसके इलावा ज्यादा तला हुआ खाना भी ना खाएं।
  • धूम्रपान ना करे, धुँआ शरीर में balgham को बढ़ाता है और शरीर का जल्दी ठीक होने की क्षमता को कम करता है।
  • मसालेदार खाना नाक की बलगम तोड़ता है और इसे आसानी से बहने देता है।

 

दोस्तों कफ का इलाज और आयुर्वेदिक उपचार, Cough Balgam Ka ilaj Upay in hindi का ये लेख कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास गले और छाती में जमा बलगम निकालने के उपाय और कफ वाली खांसी दूर करने के घरेलू नुस्खे से जुड़े सुझाव है तो हमारे साथ साँझा करे।

You may also like...

12 Responses

  1. Deepali srivastava says:

    Jise cuf banta hai aisa kya ilaj hai ki cuf na bane kyuki cuf se bhut weakness aati hai.

    • Admin says:

      कफ बनने के कारण और इससे बचने के उपाय ऊपर लेख में बताये गए है आप लेख को पढ़े.

      • Mahendra Singh says:

        Meri mami ji cough khasi jayda iska koi ayurvedic dawa bataye.

        • Admin says:

          कफ और कफ वाली खांसी का इलाज के लिए घरेलू उपाय और नुस्खे ऊपर लेख में बताये गए है आप लेख पढ़े.

  2. Dedaram says:

    खांसी पांच साल पुरानी है

  3. dharmendra says:

    i am dharmendra kumar from patna 6 month se khasi hai par thand me naak se pani nikalta hai or balgam hai thoda sa subha ke karib balgam ke sath blood.

  4. pankaj says:

    chati me balgam jama hai 5 to 6 month se kya karu.

  5. Monu Rastogi says:

    Sir jab main subah so ke uthta hu tab mere gale pila balgum aata hai or gala kharab rehta hai.

  6. durgesh aiyam says:

    hoot ke chale 1 month se thik nahi ho rahe koi ilaj.

  7. Diksha says:

    Meri mamma ke sinus ki problem hai unke cold nhi lagta jisme balgam sir me jam gyi hai or aadha sir dard hota hai is problem ko kaise thik kar sakte hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!