डायबिटीज के 10 शुरुआती लक्षण कारण और इलाज के उपाय

डायबिटीज के लक्षण कारण और उपचार इन हिंदी: डायबिटीज को शुगर और मधुमेह के नाम से भी जाना जाता है। आजकल बहुत से पुरुष महिलाएं और बच्चे इस रोग से प्रभावित है जिसका प्रमुख कारण गलत जीवनशैली व खाने पीने का तरीका सही ना होना है। डायबिटीज दो तरह की हो सकती है टाइप 1 और 2, इस बीमारी के इलाज के लिए कुछ लोग दवा (मेडिसिन) का सेवन भी करते है पर किसी भी रोग का ट्रीटमेंट करने और उससे बचने के लिए उसका कारण और सिम्पटम्स की जानकारी होना चाहिए ताकि शुरुआती संकेत पहचान कर ही बीमारी को कण्ट्रोल कर सके। आज इस लेख में हम मधुमेह के लक्षण कारण और उपाय जानेंगे, causes and symptoms of diabetes in hindi.

डायबिटीज के लक्षण और कारण, Symptoms of diabetes in hindi

 

टाइप 1 और 2 मधुमेह क्या है

  • खाने पीने में बिल्कुल भी परेहज ना करना और कोई भी चीज खा पी लेना शुगर की बीमारी को बुलावा देना ही है। डायबिटीज 2 प्रकार की होती है type 1 और 2.
  • टाइप 1 मधुमेह ज्यादातर छोटे बच्चों या 20 साल की उम्र से कम के लड़कों में होता है। इस रोग में शरीर में इंसुलिन नहीं बनता है।
  • मधुमेह टाइप 2 के लक्षण आजकल ज्यादा दिखते है। शुगर से पीड़ित अधिकतर लोग टाइप 2 से ही ग्रस्त होते है। इस रोग में शरीर में इंसुलिन तो बनता है पर वो या तो जरुरत के अनुसार नहीं बनता या फिर जितना बनता है वो ठीक से काम नहीं करता।

 

डायबिटीज के लक्षण और कारण

Diabetes Symptoms in Hindi

 

अगर शुगर के लक्षण शुरुआत में ही पहचान कर लिए जाये तो समय रहते ही जरुरी उपचार कर के इस बीमारी को बढ़ने से रोक सकते है और साथ ही अगर शुगर होने के कारण की जानकारी हो तो इससे बचने के उपाय भी किये जा सकते है।

 

1. डायबिटीज के कारण: Diabetes Ke Karan

1. जो लोग बाहर फ़ास्ट फूड अधिक खाते है उन्हें डायबिटीज होने की संभावना सबसे ज्यादा होती है क्यूंकि फास्ट फूड में फैट अधिक मात्रा में होता है जिससे मोटापा बढ़ने लगता है, शरीर में जरुरत के अनुसार इंसुलिन नहीं बनता और sugar level बढ़ने लगता है।

2. ये रोग अनुवांशिक भी होता है जिसका मतलब ये है की अगर माता पिता को डायबिटीज है तो उनके बच्चों में भी ये बीमारी होने की संभावना होती है।

3. जिन लोगों का वजन और मोटापा काफी ज्यादा होता है उन्हें शुगर होने की सम्भावना काफी ज्यादा होता है।

4. शारीरिक मेहनत ना करना भी डायबिटीज होने के कारण में प्रमुख है। कुछ लोग लम्बे समय तक एक ही जगह पर बैठ कर काम करते है और एक्सरसाइज व व्यायाम के लिए बिल्कुल भी समय निकालते।

5. तनाव में रहना या डिप्रेशन होना भी diabetes reason में से एक है।

6. तंबाकू, धूम्रपान और शराब का अधिक सेवन करने से भी डायबिटीज हो सकती है।

7. दर्द निवारक दवाओं का अधिक सेवन करने से भी शुगर हो सकती है। अक्सर शरीर में किसी भी दर्द का इलाज के लिए हम घर पर ही दवा ले लेते है। बिना डॉक्टर की सलाह कोई भी अंग्रेजी दवा लंबे समय तक प्रयोग करने से नुकसान हो सकता है।

8. चाय, कॉफ़ी, कोल्ड ड्रिंक और चीनी का ज्यादा सेवन करना।

 

2. मधुमेह के सामान्य लक्षण: Diabetes Ke Lakshan in Hindi

मधुमेह टाइप 1 और 2 के अनेक लक्षण है जिनमें से कुछ सामान्य लक्षण हम यहां बता रहे है। अगर आपको इनमें से ज्यादातर संकेत दिखाई दे तो तुरंत शुगर टेस्ट करवाये।

  • भूख ज्यादा लगना
  • किडनी में खराबी होना
  • बार बार पेशाब का आना
  • पानी पीने की इच्छा बार बार होना
  • आँखों की रौशनी कमजोर होना
  • वजन में तेजी से गिरावट आना
  • ज्यादा थकान और कमजोरी महसूस करना
  • घाव और जख्म जल्दी से ठीक नहीं होना
  • हाथों और पैरों पर खुजली और जख्म होना
  • बार बार फोड़े फुंसी निकलना और स्किन पर इंफेक्शन होना

 

3. प्रेगनेंसी में शुगर के लक्षण: Pregnancy Me Sugar in Hindi

1. प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिलाओं के शरीर में कई हार्मोनल बदलाव होते है जिस कारण कुछ महिलाओं के शरीर में शुगर का लेवल बढ़ जाता है।

2. गर्भावस्था में आमतौर पर डायबिटीज सिम्पटम्स महसूस नहीं होते इसलिए समय समय पर शुगर टेस्ट करना जरुरी होता है।

3. प्यास ज्यादा लगना और बार बार पेशाब आना कुछ ऐसे संकेत है जिससे प्रेगनेंसी में शुगर की पहचान की जा सकती है।

4. प्रेगनेंसी में शुगर कण्ट्रोल कैसे करे, वजन को नियंत्रित रख कर, pregnancy से पहले व्यायाम की आदत बना कर, संतुलित आहार, परहेज और शुगर लेवल की निगरानी से महिला शुगर का स्तर बढ़ने से रोक सकती है।

 

डायबिटीज का इलाज और उपाय: Diabetes Ka ilaj Upay in Hindi

  • अगर किसी व्यक्ति या महिला को शुगर हो जाये तो क्या और कैसे इलाज करना चाहिए। Sugar control में रखने और उपचार के लिए मरीज इंसुलिन का प्रयोग करता है पर इसका अधिक प्रयोग करने से नुकसान हो सकता है।
  • डायबिटीज का उपचार के लिए मेडिसिन या इंजेक्शन की जगह देसी और घरेलू नुस्खे का इस्तेमाल ज्यादा बेहतर है।
  • अंग्रेजी दवा शुगर कम तो करती है पर इसे खत्म नहीं कर पाती पर अगर सही तरीके से नियमित इलाज और परहेज किया जाये तो आयुर्वेदिक उपचार से इस बीमारी को खत्म भी किया जा सकता है।

 

डायबिटीज से बचने के उपाय

  • खुद को तनाव मुक्त रखे, ज्यादा तनाव लेना शुगर का कारण बन सकता है। योग और मैडिटेशन से तनाव दूर कर सकते है।
  • वजन बढ़ने ना दे, शारीरिक श्रम करे और अच्छी नींद ले।
  • शुगर से बचने के लिए डाइट में अच्छा आहार लेना चाहिए। ज्यादा मीठा, फास्ट फूड, घी और तेल से बनी हुई चीजों से परहेज करे।
  • डायबिटीज के रोगी को प्रतिदिन कपालभाति और अनुलोम विलोम प्राणायाम करना चाहिए।
  • डॉक्टर की सलाह के बिना दवा नहीं लेनी चाहिए।
  • शुगर के रोग में मरीज को अपने हाथों और पैरों का ख्याल रखना चाहिए। अगर कोई चोट या घाव हो जाये उसे नजरअंदाज नहीं करे।

 

दोस्तों डायबिटीज के लक्षण कारण और इलाज, Diabetes ke lakshan aur ilaj in hindi का ये लेख कैसा लगा हमे बताये और आपके पास अगर टाइप 1, 2 मधुमेह के लक्षण उपचार उपाय और दवा से जुड़े सुझाव है तो हमारे साथ साँझा करे।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!