दादी माँ के देसी घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक उपचार हिंदी में

दादी माँ के नुस्खे: अगर हम पुराने ज़माने की बात करे तो उस तो उस समय एलोपैथिक डॉक्टर नहीं आयुर्वेदिक वैद हुआ करते थे जो नब्ज़ देख कर ही पता लगा लेते थे की क्या बीमारी है और देसी जड़ी बूटियों से दवा बना कर उपचार किया करते थे। पहले के समय में छोटी मोटी बीमारी का इलाज तो घर पर ही कर लिया जाता था। हमारे घर की रसोई में ऐसी बहुत सी चीजें है जिनमें औषधिय गुण होते है। हमारे दादा – दादी, नाना – नानी तो आज भी अपने घरेलू नुस्खे से इलाज करना बेहतर समझते है क्योंकि ये उपाय सदियों पुराने है और इनसे उपचार करने में सेहत को कोई नुकसान नहीं होता। इसके इलावा ये उपाय सस्ते और असरदार होते है। Dadi Maa ke Gharelu Nuskhe in Hindi.

घर पर किये जाने वाले उपायों को दादी माँ के नुस्खे कहा जाता है। किसी बीमारी का इलाज करना हो, चेहरे का रंग गोरा करना हो, बालों का झड़ना रोकना होना, नये बाल उगाने हो, वजन बढ़ाना हो या कम करना हो घरेलू नुस्खों का प्रयोग फायदेमंद है।

दादी माँ के नुस्खे, dadi maa ke gharelu nuskhe in hindi

 

दादी माँ के नुस्खे और घरेलू उपाय

Dadi Maa ke Nuskhe : Gharelu Nuskhe in Hindi

1. पथरी का इलाज घरेलू नुस्खे से करना हो तो पथरचट्टा का 1 पत्ता और 4 दाने मिश्री पीस कर 1 गिलास पानी के साथ खाली पेट पिए।

2. 2 ग्राम मिश्री, 1 ग्राम सूखा धनिया और 1 ग्राम सरपगंधा पीस कर पानी के साथ लेने से हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल होता है।

3. अगर आप को शूगर बढ़ने की बीमारी है तो सुबह सुबह खाली पेट करेले का जूस पिये। जूस बनाने से पहले करेले के बीज निकाल दे। जूस निकलने के बाद इसमें थोड़ा पानी मिलाये और पिये। इस उपाय को 2 महीने तक लगातार करे आपकी शूगर कंट्रोल में रहेगी।

4. शरीर में खून की कमी पूरी करने के लिये 1 गिलास मीठे दूध में 5 ग्राम बेलगिरी चूरन मिला कर पिये। कुछ दिन लगातार इस उपाय को करने से खून की कमी दूर होने लगती है।

5. खूनी बवासीर के इलाज में खून को रोकने के लिए 10 से 12 ग्राम धुले हुए काले तिल को घर में बनाया हुआ ताज़ा मक्खन के साथ खाये। इस के निरंतर प्रयोग करने से बवासीर में खून का निकलना  बंद हो जाता है।

6. सर्दी जुकाम की समस्या में नाक बंद होने लगे तो थोड़ी सी अज्वाइन पीस कर किसी पतले कपड़े में बाँध ले और थोड़ी थोड़ी देर में इसे सूंघे, इससे नाक खुल जाएगी। जाने सर्दी जुकाम के इलाज के देसी नुस्खे कैसे करे।

7. अगर किसी को लकवे का अटैक पड़े तो तुरंत 50 से 100 ग्राम तिल का तेल गुनगुना कर के पिला दे और कच्चा लहसुन चबाने को दे।

8. मसूड़ों में दर्द, दाँत दर्द और सूजन की समस्या का उपचार करने के लिए 1 ग्लास पानी में 3 से 4 पत्ते अमरूद के उबाल ले और हल्का गुनगुना होने पर छान ले। अब इस पानी से थोड़ा नमक मिला कर कुल्ला करे, दांतों और मसूड़ों के दर्द से छुटकारा मिलेगा।

9. 1 गिलास पानी में थोड़ी सी गिलोय और 5 से 6 तुलसी के पत्ते डाल कर उबाल ले और काढ़ा बना कर पिये। इस काढ़े मे पपीते के 3 से 4 पत्तों का रस मिला कर पीने से प्लेट्लेट की मात्रा तेजी से बढ़ती है। ये आयुर्वेदिक दवा स्वाइन फ़्लू, डेंगू और चिकनगुनिया मे रामबाण उपचार का काम करती है।

10. चेहरे पर दाग धब्बे और झुर्रियां हो तो थोड़े से बेसन में थोड़ी सी मलाई और 2 चम्मच नींबू का रस डाल कर अच्छे से मिला ले। अब इस मिश्रण को आधे घंटे के लिये चेहरे पर लगा कर रखे फिर धो ले।  इस gharelu upay से चेहरे की खुश्की दूर होती है, झुर्रियां सॉफ होती है और चेहरे पर चमक आती है।

11. सर्दियों में होने वाले रोगों से बचने और स्वस्थ रहने के लिए जरुरी है की खान पान का ध्यान रखा जाये। सर्दियों के मौसम में काली मिर्च, अदरक, लहसुन, तिल, केसर और गुड जैसी चीज़े खाना चाहिये। ठण्ड में विटामिन सी के लिए संतरा, अमरुद और नींबू का सेवन करे।

12. गले में टॉन्सिल और छाले होने पर आधा लीटर पानी में 20 ग्राम मेथी दाना डाल कर धीमी आँच पर पकाए और पानी को अच्छी तरह उबलने दे। पानी ठंडा होने पर इसे छान ले फिर इस में नमक डाल कर 5 से 10 मिनट तक गरारे करे। इस उपाय को दिन में 2 – 3 बार करने पर टॉन्सिल्स से होने वाला दर्द कम होने लगेगा।

13. जब छोटे बच्चों के दाँत निकलते है तब उन्हें काफ़ी पीड़ा होती है। इसके इलावा उल्टी – दस्त और बुखार जैसी परेशानियां भी होती है। ऐसे में बच्चों को संतरे का रस देने से उनकी बैचेनी दूर होती है और पाचन शक्ति बढ़ती है। एक बार में 2 चम्मच रस ही दे और दिन में कम से कम 3 बार आप बच्चे को संतरे का रस पिलाये।

14. झड़ते बालों को रोकने के लिए दही का इस्तेमाल बहुत असरदार है। दही से बालो को जरुरी पोषण मिलता है। बालों पर दही लगाने के आधे घंटे बाद धो ले। अगर आपके बाल जादा झड़ते हो तो हफ्ते में 2 से 3 बार इस उपाय को करे, इससे बालों को मजबूती मिलेगी और बाल सुंदर दिखने लगेंगे।

15. काली मिर्च, अजवाईन, नमक लहौरी, जीरा, सोंठ, धनिया, मोटी इलायची, पुदीना, काला नमक और नौसेदार। ये सब 10 – 10 ग्राम की मात्रा में ले और 3 ग्राम लौंग ले।  इन सब को मिला कर बारीक पीस कर चूरण बना ले। अब रोजाना 3 ग्राम चूरण पानी के साथ लेने से पेट का दर्द और पेट की गैस का ilaj होता है। खाना ठीक से हज़म करने में भी ये आयुर्वेदिक उपाय काफी फायदेमंद है।

16. गंजापन से छुटकारा पाना मतलब नए बाल उगाना और पुराने बालों का गिरना रोकना। इसके लिए 5 चम्मच दही में 1 चम्मच नंबू का रस और 2 चम्मच काले चने का पाउडर मिला कर सिर पर लगाये और 1 घंटे बाद धो ले। इस देसी नुस्खे को हफ्ते में 2 से 3 बार करे।

17. घुटनों और जोड़ों के दर्द का इलाज करने के लिए अश्वगंधा, शतावरी का चूरन और आमलकी को अच्छे से मिला ले और रोजाना सुबह पानी के साथ ले। इससे दर्द ठीक होगा और जोड़ों को मजबूती मिलेगी। अगर गठिया की शिकायत हो तो इस उपाय से वो भी ठीक होता है। लहसुन के तेल में अजवाइन और हींग मिला कर पका ले और जोड़ो की मालिश करे तो जोड़ों और घुटनों का दर्द दूर होता है।

18. दिल की बिमारियों का उपचार घरेलू नुस्खे से करने के लिए 20 ग्राम गाजर का रस और 40 ग्राम आंवले का रस मिला कर पिये। इस उपाय से ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल में रहता है।

19. अगर किसी को आधे सिर दर्द (माइग्रेन) की बीमारी हो तो सिर के जिस हिस्से में दर्द जादा हो उस तरफ की नाक में गाय का शूध देसी घी डालें। जाने सिर दर्द का इलाज के नुस्खे

20. लीवर की सूजन और कमज़ोरी दूर करने के लिये हर रोज सुबह शाम 1 गिलास पानी में 1 चमचा शहद और 1 चम्मच सेब का सिरका मिला कर पियें। लिवर को ताक़त देने और गर्मी दूर करने का ये रामबाण उपाय है।

21. चेहरे से पिंपल्स और कील मुंहासे हटाने की लिए नीम के पत्तों को पानी में उबाल कर इस पानी से चेहरे को धोएं। पत्तों को पीस कर एक लेप बना ले और चेहरे पर लगाये।

22. गुर्दे (किड्नी) के रोगों से बचने और इलाज करने के लिए हर एक घंटे में पानी पिने की आदत डाले। पानी पीने से किड्नी में मौजूद विषैले पदार्थ पेशाब के रास्ते शरीर से बाहर निकलते है। नींबू पानी पीने से भी फायदा मिलता है, इससे शरीर को विटामिने सी मिलेगा।

23. अगर आप अपने अधिक खाने की आदतों से परेशान है और भूख कम करने के लिए दादी माँ के नुस्खे अपनाना चाहते है तो खाने में काली और हरी मिर्च का सेवन करे। मिर्च से भूख कम लगती है और मोटापा कम करने में मदद मिलती है।

24. नपुंसकता हो या मर्दाना कमज़ोरी, इसका इलाज आयुर्वेदिक तरीके से करने के लिए 1 चम्मच आंवला चूरण और 1 चम्मच शहद में 2 चम्मच आंवले का रस मिलायें और दिन में 2 बार इसका सेवन करे। इस नुस्खे से यौन शक्ति  बढ़ती है और नपुंसकता का इलाज होता है।

25. कब्ज़ खोलने के लिए दही में ईसबगोल की भूसी मिला कर खाये। पत्ता गोभी का जूस और पालक का जूस कब्ज़ का इलाज करने में असरदार है।

26. किसी को बुखार हुआ हो तो पहले बुखार के साथ आने वाले लक्षणों पर ध्यान दे, इससे ये पता चलेगा की ये आम बुखार है या फिर मलेरिया, टाइफाइड, डेंगू या चिकुनगुनिया की वजह से हुआ है। अगर आपको इनमें से किसी बीमारी के लक्षण दिखे तो एक बार किसी डॉक्टर से मिले और टेस्ट करवाये। बुखार किसी भी वजह से हो गिलोय का काढ़ा पिने से आराम मिलता है। जाने घरेलु नुस्खे अपना कर बुखार का इलाज कैसे करे

27. अगर डेंगू के लक्षण दिखे तो इसके उपाय में भी गिलोय का सेवन अच्छा है। जाने डेंगू का उपचार के आयुर्वेदिक नुस्खे क्या है और इनका प्रयोग कैसे करे।

28. खाना खाने के आधा घंटा पहले नमक के साथ अदरक का सेवन करने से भूख बढ़ती है। जाने देसी नुस्खे अपना कर भूख कैसे बढ़ाये

29. बहुत से लोग अपने दुबले पतले शरीर से परेशान होते है और अपने दुबलेपन से छुटकारा पाने के लिए कोई न कोई उपाय करते रहते है। शरीर का वजन कम हो या जादा इसका प्रमुख कारन है ख़राब पाचन तंत्र। कुछ  लोगो को पेट की बीमारियां जैसे कब्ज़, गैस की वजह से भी ये परेशानी होती है। अगर आप अपना वजन बढ़ाना चाहते है तो पहले पेट की बीमारियों का उपचार करे और अपनी पाचन क्रिया को दरुस्त करे। जाने शरीर वजन बढ़ाने के उपाय कैसे करे।

30. अगर आपका वेट अधिक है और अपने पेट की चर्बी और  मोटापे से छुटकारा पाना चाहते है तो जाने मोटापा घटने के तरीके

31. कैंसर के इलाज में हल्दी और गोमूत्र का प्रयोग रामबाण उपाय है, ये कैंसर को सेल्स को नष्ट करते है। आधा कप गोमूत्र और आधा चम्मच हल्दी मिलकर गरम करे और रोगी को चाय के जैसे पिने को कहे। इस उपाय को दिन में 2 बार लगातार 3 महीने तक करने पर आश्चर्यजनक तरीके से फायदा मिलता है।

32. दादी माँ के घरेलू नुस्खे और उपाय पीरियड्स के लिए: मासिक धर्म आने में देरी होना, बाबा बार पीरियड की डेट लेट हो जाना, पीरियड्स के दौरान कमर और पेट में जादा दर्द होना या फिर माहवारी से संबंधित कोई दूसरी समस्या हो इन सबका रामबाण इलाज है हल्दी प्रयोग करना। हल्दी में जो गुण मौजूद होते है वे मासिक स्त्राव को बढ़ाते है। बिना देरी के समय पर मासिक धर्म आये इसके लिए 1/4 चम्मच हल्दी 1 गिलास दूध में मिलाकर पिए।

 

ऊपर लिखे हुए नुस्खे आपकी जानकारी के लिए है, अगर आप की स्किन संवेदनशील है या आप कोई गंभीर रोग के इलाज के लिए उपाय करना चाहते है तो आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह जरूर ले।

 

दोस्तों दादी माँ के नुस्खे, Desi Gharelu nuskhe in hindi, Ayurvedic Upay का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके बताये और अगर आपके पास किसी बीमारी के इलाज के लिए आयुर्वेदिक उपाय और देसी इलाज है तो हमारे साथ शेयर करे।

You may also like...

39 Responses

  1. Anuj singh says:

    Mote hone ke upay

  2. ABINASH says:

    Dandruff mitane ke leye koi upay hai pls….

  3. Amit Raj says:

    Aap jo safed balo ko kala karne ke liye jo nuskha btate h usme koi risk nhi h

    • Admin says:

      दोस्त आयुर्वेदिक नुस्खे के नुकसान न के बराबर होते है पर हर व्यक्ति की स्किन अलग होती है इसलिए कोई भी उपाय करने से पहले शरीर पर कही और लगा कर चेक करे.

  4. Alam says:

    Very nice kindly let me know the treatment of Bewae in foot because fain and bleeding

  5. Naman jain says:

    Dandruff dur karne ke upay kya h

  6. Shah says:

    Pith ke pimples ke like khuchh gharelu nuskhe

  7. surinder kumar says:

    Mere danto me aur mashude me dard bahut hota hai koi sahi ilaj batao

  8. Krupa says:

    Mere kan me shrdi ki vajahse dhaak pad gai he to kan me continous aavaj aati he aapke pass koi ilaj he to plzz bataye

    • Ashwin patel says:

      मैं काफी दुबला और कमजोर हु … खान पान भी ठीक है लेकिन मोटा नही होता 24 साल का हो गया हु मेरे दोस्त हस्ते है मोटा होने के लिए की उपाय बताये

  9. jyoti says:

    mujhe bas m ulti hoti h upay bataoo

  10. dalip says:

    sir mujhe safed dag h or ye thik nhi ho rha h kuch bta do jisse thik ho sake

  11. shyam singh deora says:

    mujhe sankarit bache kese peda ho ke desi nuskhe ki jankariya chahiye

  12. sheetal says:

    sir mere bete ki bathroom wali jegha sujhi padi hai aur red hui padi hai pls koi upae betao 2.6 montth ka hai beta mera

    • Admin says:

      शीतल जी ये बहुत कारणों से हो सकता है जैसे स्किन की एलर्जी या कोई इंफेक्शन, रोग सही जानकारी के लिए डॉक्टर से मिला कर जांच कराये।

  13. shweta prajapati says:

    sir samne ke bal bhut gir rahe hai aage ka matha pura takla ho gya hai please sir help me please

  14. Vickie says:

    Mujhe urine problem hai.. Maine har tarah ki dawai kha li.. phir bhi kuch aaram nhi mila aur sabhi test normal hain.. Main kya kru plz btaye.. Peshab jyada aata hai aur baar baar aata h

  15. meenu says:

    Mere ko bacha nahi ho raha period pichle mahine aaye tbe abke baar nahi am i pregnant.

  16. akshay soni says:

    meri back me raat me sote time bhut tej dard hota jiss ke karan me pure rat thik se nhi so pata hu me kafi kamjor aur dubla bhi hu koi treatment btaiye

  17. Abhay says:

    Mere sir me ek massa ho gya hai mai kisi trah use koi dressing nhi chahta so plz give me a better solution

  18. तनवीर says:

    मुंह में छालों का इलाज बताओ.

  19. Man on says:

    Very useful Desi treatment

  20. shubham srivastav says:

    Gurde me stone hai 9mm ki bahut dard hota h plz btaiye hum Kya kare plz sir kitna time lagega theek hone me.

  21. Akhalesh kushwah says:

    Sir me jaldi discharge Ho jata hu iska upay Ho to batao

  22. ashish says:

    Dear admin mere father ko kal se letring nhi choot rhi hai sayad gas bhi nhi pàss ho rhi h ab to pet bhi jada dard ho rha hai kuch bataye.

  23. Vishal agrawal says:

    Ser mera bahut jaldi bury patan ho jata hai iska jo upay photo batao me bahut pareshan hu.

  24. ANIL JAIN says:

    Hello My mother having problem of soiling in knee joint.
    Unke pero me gutne ke neeche se panjo tak sujan hai.
    Unko high bp or suger bhi hi, kirpya kuch ilaj bataye
    For fast relief.

    • Admin says:

      शुगर का इलाज और घुटने जोड़ों में दर्द और सूजन के उपाय ऊपर दादी माँ के घरेलू नुस्खे में बताये गए है आप लेख को पढ़े.

  25. viney says:

    कया मोटर नयुरो desease
    moto nureon desease ka ilaz hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!