सफेद पानी लिकोरिया का इलाज 10 आसान घरेलू उपाय और नुस्खे

सफेद पानी लिकोरिया का इलाज के घरेलू उपाय और नुस्खे: लिकोरिया को white discharge श्वेत प्रदर और सफेद पानी के नाम से भी जानते है जो की  महिलाओं में होने वाली एक बीमारी है। इस बीमारी में लड़की के गुप्त अंग से सफ़ेद रंग का चिपचिपा और बदबूदार पानी आता है जिस कारण बॉडी में इंफेक्शन होने का खतरा अधिक होता है। इस रोग के उपचार के लिए आप पतंजलि से आयुर्वेदिक दवा ले सकते है या डॉक्टर की सलाह से अंग्रेजी मेडिसिन भी ले सकते है। दवा के इलावा कुछ आसान देसी तरीके अपना कर भी इस समस्या से छुटकारा पाने में मदद मिलती है। आज हम इस लेख में सफ़ेद पानी की समस्या के समाधान के लिए घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक उपचार जानेंगे, gharelu nuskhe for likoria in hindi.

लिकोरिया का रोग किसी भी शादीशुदा महिला और लड़की को हो सकती है पर ज्यादातर ये समस्या शादीशुदा महिलाओं में ही होती है। प्रेगनेंसी के दौरान भी कई बार गर्भवती महिलाओं को लिकोरिया की समस्या से जूझना पड़ता है।

सफेद पानी का इलाज और घरेलू उपाय, Gharelu nuskhe for likoria in hindi

 

लिकोरिया होने का कारण

  1. महिला पुरुष में आपसी मेल अधिक होना
  2. यूरिन में इंफेक्शन की समस्या होना
  3. गर्भपात बार बार करवाना
  4. पेशाब करने वाली जगह की सफाई ना करना

 

लिकोरिया के लक्षण

  1. गुप्तांग पर खुजली होना
  2. कमर दर्द करना
  3. चक्कर आना
  4. हाथों और पैरों में दर्द करना
  5. ज्यादा कमजोरी आना
  6. आँखो के नीचे काले घेरे आना

 

सफेद पानी का इलाज के घरेलू उपाय और नुस्खे

Gharelu nuskhe for likoria in hindi

1. शहद 1 चम्मच ले और इसमें 1 चम्मच प्याज का रस मिला कर इसका सेवन करे। नियमित रूप से ये उपाय करने पर लिकोरिया की समस्या दूर होने लगेगी।

2. मक्खन या फिर घी के साथ 1 पक्का हुआ केला खाएं। इस उपाय को दिन में 2 बार कर सकते है। इससे सफ़ेद पानी के रोग से राहत मिलती है।

3. पक्का हुआ केला बीच से काट कर इसमें कच्ची फिटकरी 1 ग्राम की मात्रा में डाल कर खाए। इस उपाय को 1 हफ्ता रोजाना करने से likoria problem दूर होने लगेगी।

4. शहद 2 चम्मच ले और इसमें 1 चम्मच आंवला पाउडर मिलाकर इसका सेवन करने से सफ़ेद पानी को रोकने में मदद मिलती है।

5. पेशाब वाली जगह पर खुजली और बदबू की समस्या हो तो फिटकरी वाले पानी से दिन में दो बार इस जगह की सफाई करे।

6. लिकोरिया की समस्या के समाधान के लिए 1 लीटर पानी में 100 ग्राम भिंडी 15 मिनट तक उबाल ले। अब इस पानी को ठंडा हो जाने पर छान ले फिर शहद मिला कर सेवन करे। कुछ दिन नियमित रूप से इस घरेलू नुस्खे को करने पर लिकोरिया से राहत मिलती है।

7. गुलाब के पत्ते पीस कर 2 बार दिन में इसका आधा चम्मच दूध के साथ उपयोग करे। इस नुस्खे से भी सफेद पानी के रोग में राहत मिलती है।

8. श्वेत प्रदर की समस्या में हर रोज भुने चने खाना चाहिए। इसके साथ साथ डाइट में भी ऐसे फुड खाये जिससे शरीर को जरुरी पोषण मिल सके।

9. इस रोग में खुजली से राहत के लिए अमरूद के पत्ते आधा घंटा पानी में उबाल ले और ठंडा होने पर छान ले। अब इस पानी से 2 बार दिन में अपने गुप्त जगह की सफाई करे।

10. तुलसी का रस 1 चम्मच ले और 1 चम्मच शहद में मिला कर सेवन करने से भी राहत मिलती है।

 

लिकोरिया का आयुर्वेदिक उपचार

1. नीम की छाल सूखा कर पीस ले और पाउडर बना ले। अब शहद में इस पाउडर को मिलाकर दिन में 2 बार इसका उपयोग करे। इससे खून आना रुकेगा।

2. सफेद पानी के उपचार के लिए अशोक छाल, इलायची के बीज, दालचीनी और सफेद जीरा पानी में उबाल कर इसका काढ़ा बना ले और ठंडा हो जाने के बाद छान ले। इस काढ़े को दिन में 2-3 बार पीने से खूनी लिकोरिया में भी राहत मिलती है।

3. लिकोरिया का बाबा रामदेव इलाज में शीशम के पत्तों को औषधी बताया गया है। शीशम के 8-10 पीस ले और पानी में मिलाकर इसका सेवन करे। इस उपाय के लिए हर बार ताजा पत्ते ही प्रयोग में लाये। अगर किसी वजह से ताजे पत्ते ना मिले तो पत्तों को सूखा कर इसका पाउडर बना ले फिर दवा के जैसे सेवन करे।

4. पतंजलि से भी इस रोग की आयुर्वेदिक दवा ले सकते है। दवा लेने से पहले उसे लेने का सही तरीका और मात्रा के बारे में विस्तार से जान ले।

 

सफेद पानी रोकने के उपाय

  • भोजन में हेल्थी आहार खाये
  • आपसी मेल के बाद गुप्त जगह की सफाई करे
  • नहाते समय गुप्त जगह को गुनगुने पानी से धोए
  • पेशाब करने के बाद भी सफाई का ध्यान रखे
  • यूरिन इंफेक्शन के रोग में लापरवाही ना करे

 

सफेद पानी का इलाज के घरेलू उपाय, Gharelu nuskhe for likoria in hindi का ये लेख कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास लिकोरिया का उपचार के देसी आयुर्वेदिक नुस्खे है तो हमारे साथ साँझा करे।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!